Get all popular news in one place from different sources

India will host the third India-US 2+2 Ministerial Dialogue on 27 October, 2020 in Delhi news and updates | अमेरिकी विदेश मंत्री बोले- भारत-अमेरिका के बीच टू प्लस टू बैठक चीन के खतरे पर चर्चा के लिए होगी

0

  • Hindi News
  • International
  • India Will Host The Third India US 2+2 Ministerial Dialogue On 27 October, 2020 In Delhi News And Updates

न्यूयॉर्क2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

वॉशिंगटन डीसी में न्यूज कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो।

  • नई दिल्ली में 27 अक्टूबर को भारत-अमेरिका के बीच तीसरी टू-प्लस-टू वार्ता होगी
  • कोरोनावायरस महामारी के चलते दोनों देशों के बीच होने वाले इस बैठक में देरी हुई

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने बुधवार को कहा कि अगले हफ्ते नई दिल्ली में भारत और अमेरिका के के बीच टू प्लस टू मंत्रिस्तरीय बैठक होगी। इसमें चीन से होने वाले खतरों पर चर्चा की जाएगी। पोम्पियो ने कहा कि उन्हें यकीन है कि अगले मंगलवार की बैठक में इस बात पर चर्चा होगी कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा फैलाए जा रहे खतरों से निपटने के लिए हम मिलकर कैसे काम कर सकते हैं।

पोम्पियो ने कहा- वे विशेष रूप से उस बैठक का इंतजार कर रहे हैं, जिसमें वे और रक्षा सचिव माइक ओस्लो विदेश मंत्री एस. जयशंकर और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के साथ बैठक करेंगे। कोरोना महामारी की वजह से दोनों देशों के बीच हर साल होने वाली टू प्लस टू बैठक में देरी पर उन्होंने कहा, ‘‘मुझे खुशी है कि हम उनसे मिलने जा रहे हैं।’’

भारत और चीन के बीच लद्दाख में तनाव जारी

चीन के साथ बिगड़ते रिश्तों के बीच नई दिल्ली में 27 अक्टूबर को तीसरी भारत-अमेरिका टू-प्लस-टू मंत्री स्तरीय चर्चा की मेजबानी करेगा। अमेरिका-भारत की यह वार्ता अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों से कुछ हफ्ते पहले ही आयोजित होनी है। इसके अलावा यह वार्ता ऐसे समय पर हो रही है, जब भारत और चीन के बीच लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास तनाव चल रहा है।

वार्ता का दूसरा संस्करण दिसंबर में वॉशिंगटन में हुआ था

इस शीत युद्ध जैसे तनाव के मद्देनजर अमेरिका और भारत के बीच होने वाली वार्ता महत्वपूर्ण मानी जा रही है। वहीं भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा कि माइक पोम्पियो और रक्षा मंत्री मार्क टी. एस्पर वार्ता के लिए 26 और 27 अक्टूबर को भारत का दौरा करेंगे। पहली बार टू-प्लस-टू वार्ता सितंबर 2018 में दिल्ली में हुई थी। वार्ता का दूसरा संस्करण पिछले साल दिसंबर में वॉशिंगटन में हुआ था।

Source link

You might also like